मंगलवार, 29 मार्च 2011

यूरोप से एक बहुत मशहूर फ़िल्म : वोल्वेर

पेतैर किराय

आज मैं एक स्पैनिश फ़िल्म के बारे में लिखना चाहता हूँ । वोल्वैर का मतलब स्पैनिश भाषा में 'वापस आना' है और उसका शीर्षक यह संयोग से नहीं है । फ़िल्म के निर्देशक पैद्रो अल्मोदोवर हैं जो यूरोपीय निर्देशकों में से बहुत प्रसिद्ध हैं । हालांकि मैंने सिर्फ़ उनकी दो फ़िल्में देखीं लेकिन मैं कह सकता हूँ कि वे मेरे प्रिय निर्देशक हैं । उनकी एक बहुत दिलचस्प शैली है जो आलोचक लोगों को बहुत ही पसंद है ।
वोल्वैर स्पेन की राजधानी, मद्रीद में है । फ़िल्म की अभिनेत्री पेनेलोप क्रुस है जो फ़िल्म में नौकरानी है (उसका नाम राईमुंदा है) । उनकी एक बेटी है जिसका नाम पौला है । वह, राईमुंदा अपनी बड़ी बहन, सोलेदद के साथ (हिंदी में – अकेलापन) एक छोटे से ला मंचा (La Mancha) के गाँव में बड़ी हुई ।
एक दिन सोले अपनी मौसी की अन्त्येष्टि के कारण गाँव वापस आती है । राईमुंदा आ नहीं सकती क्योंकि घर लौटकर उसने अपनी बेटी और अपने मरे हुए पति को देखा । पति, पाको ने, पौला के बलात्कार की कोशिश की थी, लेकिन उसके बाद पौला ने उसे चाकू धौंप दिया । यह तो बहुत मुश्किल बात है ।
सोले को मद्रीद लौटकर पता चली कि उसकी माँ जो सैद्धांतिक रूप से ४ साल पहले जलकर मर गयी थी, अभी तो अपने लगेज कारियर में है, जिन्होंने पौला मौसी की सारी चीज़ें जल्दी से रिश्तेदारों से पहले ले लीं ।
सोले को मालूम नहीं कि अब क्या करना चाहिए । वह बहुत आतंकित है । चूंकि उसकी केश-प्रसाधक की दुकान है, उसकी माँ रूसी सहायक बन जाएगी । परंतु राईमुंदा के साथ क्या होगा ? क्यों माता जी यहाँ है ? क्या वे भूत हैं जिसके पास भूमि में काम करना पड़ता है ? ज़रूरी है कि इस हालात में कोई भेद है... लेकिन क्या ?
अल्मोदोवर की फ़िल्मों में लगभग सिर्फ़ स्त्रियाँ हैं पर फ़िल्मों की कहानियाँ इसी लिए बहुत-बहुत दिलचस्प हैं । ये मानव कहानियाँ हैं जो सभी लोगों के साथ घट सकती हैं ।
जिन लोगों की रुचि स्पैनिश संस्कृति में है या स्पैनिश फ़िल्मों में या शायद पेनेलोप क्रुस में है, मैं उन्हें यह फ़िल्म देखने का सलाह देता हूँ ।

1 टिप्पणी:

  1. निश्चित ही एक रुचिकर कहानी.
    डाक्टर शर्मा जी ! नमस्कार ! ! ! आज प्रथम बार आपके ब्लॉग पर आया. अच्छा लगा. वहां के लोगों को ब्लॉग लेखन के लिए प्रेरित करते रहें .....हम भी यथासंभव उनके उत्साहवर्धन का प्रयास करेंगे. टिप्पणी के लिए यदि संभव हो तो शब्द पुष्टिकरण हटा दें जिससे लोगों को टिप्पणी में सुविधा होगी. एल्ते विश्वविद्यालय बुडापेस्ट के हिन्दी के विद्यार्थियों को हमारी शुभकामनाएं.

    उत्तर देंहटाएं